Doormat,Not Quotes,Poetry

Gujarati Quotes,Punjabi Quotes,Not Quotes,Krishna,I Wish,Feelings,Poetry,Thoughts

ज़मीन जल चुकी है आसमान बाकि है, दरख़्तों तुम्हारा इम्तहाँ बाकि है। वोह जो खेतों की मेढ़ों पर उदास बैठे है, उन्हीं की आँखो में अब ईमान बाकि है। बादलों अब तो बरस जाओ सुखि ज़मीनो पर किसी का मकान गिरवी है तो किसी का लगान बाकि है।

ज़मीन जल चुकी है आसमान बाकि है, दरख़्तों तुम्हारा इम्तहाँ बाकि है। वोह जो खेतों की मेढ़ों पर उदास बैठे है, उन्हीं की आँखो में अब ईमान बाकि है। बादलों अब तो बरस जाओ सुखि ज़मीनो पर किसी का मकान गिरवी है तो किसी का लगान बाकि है।

20 Soul-Stirring Shayaris From Bollywood's Jack Of All Trades, Piyush Mishra

20 Soul-Stirring Shayaris From Bollywood's Jack Of All Trades, Piyush Mishra

Pinterest
Search