Explore 30 September and more!

Explore related topics

पुरखौती मुक्तांगन में सहकारिता, संस्कृति एवं पर्यटन विभाग के मंत्री श्री दयालदास बघेल एवं बेमेतरा विधायक श्री अवधेश सिंह चंदेल ने दुर्ग, बेमेतरा एवं बालोद जिले के पंचायत प्रतिनिधियों के साथ लाईट एंड साउंड शो देखा. देर शाम को अँधेरा होने के बाद शो शुरू किया गया. जहाँ कलाकारों ने विभिन्न प्रसंगों पर नाट्य मंचन करते हुए प्रस्तुति दी. अलग-अलग मंचों पर पड़ती रंगीन रोशनी से माहौल बेहद आकर्षक हो गया. प्रतिनिधियों के साथ मंत्री श्री बघेल एवं विधायक श्री चंदेल ने भी कार्यक्रम का आनन्द लिया.

पुरखौती मुक्तांगन में सहकारिता, संस्कृति एवं पर्यटन विभाग के मंत्री श्री दयालदास बघेल एवं बेमेतरा विधायक श्री अवधेश सिंह चंदेल ने दुर्ग, बेमेतरा एवं बालोद जिले के पंचायत प्रतिनिधियों के साथ लाईट एंड साउंड शो देखा. देर शाम को अँधेरा होने के बाद शो शुरू किया गया. जहाँ कलाकारों ने विभिन्न प्रसंगों पर नाट्य मंचन करते हुए प्रस्तुति दी. अलग-अलग मंचों पर पड़ती रंगीन रोशनी से माहौल बेहद आकर्षक हो गया. प्रतिनिधियों के साथ मंत्री श्री बघेल एवं विधायक श्री चंदेल ने भी कार्यक्रम का आनन्द लिया.

सहकारिता, संस्कृति एवं पर्यटन मंत्री श्री दयालदास बघेल के साथ बेमेतरा जिले के पंचायत प्रतिनिधियों ने शहीद वीर नारायण सिंह अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम का भ्रमण किया. यहाँ उन्होंने भव्य स्टेडियम का नजारा लेते हुए दर्शक दीर्घा में लगाई गई आकर्षक कुर्सियों पर बैठकर विश्राम किया. प्रतिनिधियों ने मंत्री के साथ ढलती शाम को स्टेडियम के खूबसूरत माहौल का आनन्द लिया.

सहकारिता, संस्कृति एवं पर्यटन मंत्री श्री दयालदास बघेल के साथ बेमेतरा जिले के पंचायत प्रतिनिधियों ने शहीद वीर नारायण सिंह अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम का भ्रमण किया. यहाँ उन्होंने भव्य स्टेडियम का नजारा लेते हुए दर्शक दीर्घा में लगाई गई आकर्षक कुर्सियों पर बैठकर विश्राम किया. प्रतिनिधियों ने मंत्री के साथ ढलती शाम को स्टेडियम के खूबसूरत माहौल का आनन्द लिया.

हमर छत्तीसगढ़ आवासीय परिसर उपरवारा पहुंचे सहकारिता, पर्यटन एवं संस्कृति मंत्री श्री दयालदास बघेल एवं बेमेतरा विधायक श्री अवधेश सिंह चंदेल ने यहाँ का अवलोकन किया. पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग के अपर विकास आयुक्त एवं हमर छत्तीसगढ़ योजना के नोडल अधिकारी श्री सुभाष मिश्र ने यहाँ की व्यवस्थाओं से अवगत कराया. उन्होंने परिसर का भ्रमण किया और अधिकारियों को निर्देश दिए.

हमर छत्तीसगढ़ आवासीय परिसर उपरवारा पहुंचे सहकारिता, पर्यटन एवं संस्कृति मंत्री श्री दयालदास बघेल एवं बेमेतरा विधायक श्री अवधेश सिंह चंदेल ने यहाँ का अवलोकन किया. पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग के अपर विकास आयुक्त एवं हमर छत्तीसगढ़ योजना के नोडल अधिकारी श्री सुभाष मिश्र ने यहाँ की व्यवस्थाओं से अवगत कराया. उन्होंने परिसर का भ्रमण किया और अधिकारियों को निर्देश दिए.

दुर्ग जिले के पंच-सरपंच अध्ययन यात्रा के दौरान नया रायपुर स्थित मंत्रालय भवन में बेमेतरा विधायक श्री अवधेश सिंह चंदेल से मिले. यहाँ उन्हें मंत्रालय के रजिस्ट्रार श्री भगवान सिंह कुशवाहा ने सरंचना बारे में बताया. मंत्रालय के विभिन्न तलों पर भ्रमण कर प्रतिनिधियों ने मंत्रियों एवं अधिकारियों के कक्ष देखे. समिति बैठक कक्ष में बैठकर उन्होंने मंत्रालय के कामकाज के बारे में जाना.

दुर्ग जिले के पंच-सरपंच अध्ययन यात्रा के दौरान नया रायपुर स्थित मंत्रालय भवन में बेमेतरा विधायक श्री अवधेश सिंह चंदेल से मिले. यहाँ उन्हें मंत्रालय के रजिस्ट्रार श्री भगवान सिंह कुशवाहा ने सरंचना बारे में बताया. मंत्रालय के विभिन्न तलों पर भ्रमण कर प्रतिनिधियों ने मंत्रियों एवं अधिकारियों के कक्ष देखे. समिति बैठक कक्ष में बैठकर उन्होंने मंत्रालय के कामकाज के बारे में जाना.

इंदिरा गाँधी कृषि विश्वविद्यालय में दुर्ग जिले के पंचायत प्रतिनिधियों ने धान की दुर्लभ किस्मों की प्रदर्शनी देखी. डोकरा-डोकरी, राम-लक्ष्मण, दूधमोंगरा, लुचई आदि विविध नामों एवं गुणवत्ता वाले धान की प्रजातियों के बारे में जानकर वे बेहद चकित हुए. यहाँ खेती-किसानी से सम्बन्धित उपकरणों और उसके उपयोग संबंधी जानकारी दी गई. कृषि कार्यों के दौरान कीट प्रकोप से बचने के उपाय, खाद-बीज, मिट्टी की उर्वरक क्षमता आदि के बारे में उन्हें बताया गया. प्रतिनिधियों ने कृषि तकनीक का बारीकी से अध्ययन किया.

इंदिरा गाँधी कृषि विश्वविद्यालय में दुर्ग जिले के पंचायत प्रतिनिधियों ने धान की दुर्लभ किस्मों की प्रदर्शनी देखी. डोकरा-डोकरी, राम-लक्ष्मण, दूधमोंगरा, लुचई आदि विविध नामों एवं गुणवत्ता वाले धान की प्रजातियों के बारे में जानकर वे बेहद चकित हुए. यहाँ खेती-किसानी से सम्बन्धित उपकरणों और उसके उपयोग संबंधी जानकारी दी गई. कृषि कार्यों के दौरान कीट प्रकोप से बचने के उपाय, खाद-बीज, मिट्टी की उर्वरक क्षमता आदि के बारे में उन्हें बताया गया. प्रतिनिधियों ने कृषि तकनीक का बारीकी से अध्ययन किया.

पुरखौती मुक्तांगन में सहकारिता, संस्कृति एवं पर्यटन विभाग के मंत्री श्री दयालदास बघेल एवं बेमेतरा विधायक श्री अवधेश सिंह चंदेल ने दुर्ग, बेमेतरा एवं बालोद जिले के पंचायत प्रतिनिधियों के साथ लाईट एंड साउंड शो देखा. देर शाम को अँधेरा होने के बाद शो शुरू किया गया. जहाँ कलाकारों ने विभिन्न प्रसंगों पर नाट्य मंचन करते हुए प्रस्तुति दी. अलग-अलग मंचों पर पड़ती रंगीन रोशनी से माहौल बेहद आकर्षक हो गया. प्रतिनिधियों के साथ मंत्री श्री बघेल एवं विधायक श्री चंदेल ने भी कार्यक्रम का आनन्द लिया.

पुरखौती मुक्तांगन में सहकारिता, संस्कृति एवं पर्यटन विभाग के मंत्री श्री दयालदास बघेल एवं बेमेतरा विधायक श्री अवधेश सिंह चंदेल ने दुर्ग, बेमेतरा एवं बालोद जिले के पंचायत प्रतिनिधियों के साथ लाईट एंड साउंड शो देखा. देर शाम को अँधेरा होने के बाद शो शुरू किया गया. जहाँ कलाकारों ने विभिन्न प्रसंगों पर नाट्य मंचन करते हुए प्रस्तुति दी. अलग-अलग मंचों पर पड़ती रंगीन रोशनी से माहौल बेहद आकर्षक हो गया. प्रतिनिधियों के साथ मंत्री श्री बघेल एवं विधायक श्री चंदेल ने भी कार्यक्रम का आनन्द लिया.

छत्तीसगढ़ साइंस सेंटर पहुंचे बालोद जिले के पंचायत प्रतिनिधियों ने यहाँ विज्ञान के विविध प्रयोग देखे. मापन की प्रक्रिया, सिद्धांत एवं इकाइयों के बारे में जाना. विज्ञान के प्रयोगों पर आधारित माडल का अवलोकन किया. मजाकिया दर्पण, अनंत कुंआ, छत्तीसगढ़ के संसाधन, बस्तर की कलाकृतियाँ देख प्रतिनिधि मुग्ध हो गए. यहाँ उन्हें विज्ञान संबंधी रोचक जानकारी दी गई.

छत्तीसगढ़ साइंस सेंटर पहुंचे बालोद जिले के पंचायत प्रतिनिधियों ने यहाँ विज्ञान के विविध प्रयोग देखे. मापन की प्रक्रिया, सिद्धांत एवं इकाइयों के बारे में जाना. विज्ञान के प्रयोगों पर आधारित माडल का अवलोकन किया. मजाकिया दर्पण, अनंत कुंआ, छत्तीसगढ़ के संसाधन, बस्तर की कलाकृतियाँ देख प्रतिनिधि मुग्ध हो गए. यहाँ उन्हें विज्ञान संबंधी रोचक जानकारी दी गई.

हमर छत्तीसगढ़ आवासीय परिसर उपरवारा में बेमेतरा जिले के पंचायत प्रतिनिधियों ने सहकारिता, पर्यटन एवं संस्कृति मंत्री श्री दयालदास बघेल से मुलाकात की. श्री बघेल ने उनके क्षेत्र के विकास के सम्बन्ध में चर्चा की और प्रतिनिधियों के साथ छत्तीसगढ़ प्रदेश के विविध स्थलों को प्रदर्शित करते माडल का अवलोकन किया. प्रदेश के धार्मिक, ऐतिहासिक एवं महत्वपूर्ण उपक्रमों के सम्बन्ध में उन्होंने जाना-समझा. उसके बाद काउन्टर पर अपना-अपना पंजीयन कराया.

हमर छत्तीसगढ़ आवासीय परिसर उपरवारा में बेमेतरा जिले के पंचायत प्रतिनिधियों ने सहकारिता, पर्यटन एवं संस्कृति मंत्री श्री दयालदास बघेल से मुलाकात की. श्री बघेल ने उनके क्षेत्र के विकास के सम्बन्ध में चर्चा की और प्रतिनिधियों के साथ छत्तीसगढ़ प्रदेश के विविध स्थलों को प्रदर्शित करते माडल का अवलोकन किया. प्रदेश के धार्मिक, ऐतिहासिक एवं महत्वपूर्ण उपक्रमों के सम्बन्ध में उन्होंने जाना-समझा. उसके बाद काउन्टर पर अपना-अपना पंजीयन कराया.

इंदिरा गाँधी कृषि विश्वविद्यालय में दुर्ग जिले के पंचायत प्रतिनिधियों ने धान की दुर्लभ किस्मों की प्रदर्शनी देखी. डोकरा-डोकरी, राम-लक्ष्मण, दूधमोंगरा, लुचई आदि विविध नामों एवं गुणवत्ता वाले धान की प्रजातियों के बारे में जानकर वे बेहद चकित हुए. यहाँ खेती-किसानी से सम्बन्धित उपकरणों और उसके उपयोग संबंधी जानकारी दी गई. कृषि कार्यों के दौरान कीट प्रकोप से बचने के उपाय, खाद-बीज, मिट्टी की उर्वरक क्षमता आदि के बारे में उन्हें बताया गया. प्रतिनिधियों ने कृषि तकनीक का बारीकी से अध्ययन किया.

इंदिरा गाँधी कृषि विश्वविद्यालय में दुर्ग जिले के पंचायत प्रतिनिधियों ने धान की दुर्लभ किस्मों की प्रदर्शनी देखी. डोकरा-डोकरी, राम-लक्ष्मण, दूधमोंगरा, लुचई आदि विविध नामों एवं गुणवत्ता वाले धान की प्रजातियों के बारे में जानकर वे बेहद चकित हुए. यहाँ खेती-किसानी से सम्बन्धित उपकरणों और उसके उपयोग संबंधी जानकारी दी गई. कृषि कार्यों के दौरान कीट प्रकोप से बचने के उपाय, खाद-बीज, मिट्टी की उर्वरक क्षमता आदि के बारे में उन्हें बताया गया. प्रतिनिधियों ने कृषि तकनीक का बारीकी से अध्ययन किया.

यहाँ होता है क्रिकेट मैच, खिलाड़ियों का बल्ला अपना कमाल दिखता है और मैच को प्रत्यक्ष देखना बेहद रोमांचक होता है. शहीद वीर नारायण सिंह अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम में बालोद जिले के पंचायत प्रतिनिधि एक दूसरे से बातचीत में यहाँ की विशेषता के बारे में बता रहे हैं. भव्य मैदान, आकर्षक दर्शक दीर्घा और हरियाली. यहाँ का माहौल देख प्रतिनिधि बेहद उत्साहित हुए.

यहाँ होता है क्रिकेट मैच, खिलाड़ियों का बल्ला अपना कमाल दिखता है और मैच को प्रत्यक्ष देखना बेहद रोमांचक होता है. शहीद वीर नारायण सिंह अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम में बालोद जिले के पंचायत प्रतिनिधि एक दूसरे से बातचीत में यहाँ की विशेषता के बारे में बता रहे हैं. भव्य मैदान, आकर्षक दर्शक दीर्घा और हरियाली. यहाँ का माहौल देख प्रतिनिधि बेहद उत्साहित हुए.

Pinterest
Search