इश्क़ में जले मुर्दे,

7 Pins180 Followers
इश्क़ में जले मुर्दे भी ख़ाक होते हैं , कौन कहता है राख को उठा के बहाया नहीं जाता । बहता हुआ दरिया क्या पाक़ करेगा दामन, जिसके साहिल ने

इश्क़ में जले मुर्दे भी ख़ाक होते हैं , कौन कहता है राख को उठा के बहाया नहीं जाता । बहता हुआ दरिया क्या पाक़ करेगा दामन, जिसके साहिल ने

इश्क़ में जले मुर्दे भी ख़ाक होते हैं , कौन कहता है राख को उठा के बहाया नहीं जाता । बहता हुआ दरिया क्या पाक़ करेगा दामन, जिसके साहिल ने

इश्क़ में जले मुर्दे भी ख़ाक होते हैं , कौन कहता है राख को उठा के बहाया नहीं जाता । बहता हुआ दरिया क्या पाक़ करेगा दामन, जिसके साहिल ने

इश्क़ में जले मुर्दे भी ख़ाक होते हैं , कौन कहता है राख को उठा के बहाया नहीं जाता । बहता हुआ दरिया क्या पाक़ करेगा दामन, जिसके साहिल ने

इश्क़ में जले मुर्दे भी ख़ाक होते हैं , कौन कहता है राख को उठा के बहाया नहीं जाता । बहता हुआ दरिया क्या पाक़ करेगा दामन, जिसके साहिल ने

इश्क़ में जले मुर्दे भी ख़ाक होते हैं , कौन कहता है राख को उठा के बहाया नहीं जाता । बहता हुआ दरिया क्या पाक़ करेगा दामन, जिसके साहिल ने

इश्क़ में जले मुर्दे भी ख़ाक होते हैं , कौन कहता है राख को उठा के बहाया नहीं जाता । बहता हुआ दरिया क्या पाक़ करेगा दामन, जिसके साहिल ने

इश्क़ में जले मुर्दे भी ख़ाक होते हैं , कौन कहता है राख को उठा के बहाया नहीं जाता । बहता हुआ दरिया क्या पाक़ करेगा दामन, जिसके साहिल ने

इश्क़ में जले मुर्दे भी ख़ाक होते हैं , कौन कहता है राख को उठा के बहाया नहीं जाता । बहता हुआ दरिया क्या पाक़ करेगा दामन, जिसके साहिल ने

इश्क़ में जले मुर्दे भी ख़ाक होते हैं , कौन कहता है राख को उठा के बहाया नहीं जाता । बहता हुआ दरिया क्या पाक़ करेगा दामन, जिसके साहिल ने

इश्क़ में जले मुर्दे भी ख़ाक होते हैं , कौन कहता है राख को उठा के बहाया नहीं जाता । बहता हुआ दरिया क्या पाक़ करेगा दामन, जिसके साहिल ने

इश्क़ में जले मुर्दे भी ख़ाक होते हैं , कौन कहता है राख को उठा के बहाया नहीं जाता । बहता हुआ दरिया क्या पाक़ करेगा दामन, जिसके साहिल ने

इश्क़ में जले मुर्दे भी ख़ाक होते हैं , कौन कहता है राख को उठा के बहाया नहीं जाता । बहता हुआ दरिया क्या पाक़ करेगा दामन, जिसके साहिल ने

Pinterest
Search